Misra show

Misra

Summary: कितने भी उतार चढ़ाव से ज़िन्दगी क्यों न गुज़रे, हम सभी के अनुभव कितने अद्वितीय होते हैं, फिर भी एक से। इस podcast के ज़रिये मैं अपनी ज़िन्दगी के कुछ ख़ास क्षण share कर रहा हूँ, क्या पता, आपको अपनी दिखे...

Podcasts:

 Episode 8 - उम्र कितनी बची है | File Type: audio/mpeg | Duration: 318

आदमी और वक़्त की फ़ितरत यही है, एक समय के बाद दोनों गुज़र जाते हैं, और अगर मालूम है ये बात हम सभी को तो, कैसे कह दें? वक़्त है, और तेरी ज़रुरत नहीं है।

 Episode 7 - एक लम्हां लगता है | File Type: audio/mpeg | Duration: 361

प्यार ही ऐसा ज़ख़्म है, .. आदमी अकेला ख़ुद होता है, और एक ज़माना तन्हां लगता है।

 Episode 6 - एक उतारी गयी कमीज़ | File Type: audio/mpeg | Duration: 490

"हर इंसान आपकी ज़िन्दगी से एक वक़्त के बाद चला जाता है, फिर चाहे वो मर के हो, ... या डर के, या फिर जी भर के..."

 Episode 5 - कभी-कभी सोचता हूँ | File Type: audio/mpeg | Duration: 379

कभी-कभी सोचता हूँ, कि उन दो बाहों के सिवा, जिनमे एक ख़्वाब, एक उम्मीद, थोड़ा सा जिस्म, थोड़ी सी नींद, एक भरोसा, और एक दिल समा जाए उससे ज़्यादा क़ीमती और नायाब क्या हो सकता है।

 Episode 4 - कौन तय करेगा | File Type: audio/mpeg | Duration: 583

ये एक ऐसे विरह का क़िस्सा है, जिसके एक हाथ पर प्यार लिखा था, और दुसरे पर समय। प्यार समय-समय पर बस समय मांगता रह गया, और यूँहीं समय गुज़र गया...

 Episode 3 - जूंठे बर्तन | File Type: audio/mpeg | Duration: 378

हमें आज पहले से कहीं ज़्यादा संवेदनशील होने की ज़रुरत है।

 Episode 2 - आज शाम को देखा मैंने | File Type: audio/mpeg | Duration: 335

पिछले कुछ दिनों में जितना वक़्त मुझे ख़ुद के साथ मिला है, कई चीज़ों को बारीक़ी से देख पा रहा हूँ, ये एक ख़याल मेरी उस मनोदशा का चित्रण है।

 Episode 1 - कुछ नहीं हुआ तुम्हें | File Type: audio/mpeg | Duration: 622

कुछ नहीं हुआ तुम्हें, ये दर्द है, जो सिर्फ़ सोचते हो तो है, ये ज़िन्दगी भी इसी तरह, सिर्फ़ सोचते हो तो है, ये सिर्फ़ मौत है, जो कोई सोचता नहीं, फिर भी है।

 Episode 0 - Introduction | File Type: audio/mpeg | Duration: 134

कितने भी उतार चढ़ाव से ज़िन्दगी क्यों न गुज़रे, हम सभी के अनुभव कितने अद्वितीय होते हैं, फिर भी एक से। इस podcast के ज़रिये मैं अपनी ज़िन्दगी के कुछ ख़ास क्षण share कर रहा हूँ, क्या पता, आपको अपनी दिखे...

Comments

Login or signup comment.